मङ्गलम् SANSKRIT OBJECTIVE QUESTION 2023

मङ्गलम्

दोस्तों आपको इस पेज में क्लास 10th संस्कृत   का पद खांड का चैप्टर मंगलम   ऑब्जेक्टिव क्वेश्चन आंसर दिया गया है तथा मंगलम  का मॉडल पेपर भी यहां वेबसाइट पर आपको मिल जाएगा ,अन्गालम  Subjective Question 2023

1. ‘मङ्गलम्’ पाठ कहाँ से संकलित है?
(A) वेद से
(B) पुराण से
(C) उपनिषद् से
(D) वेदाङ्ग से


2. महान से भी महान क्या है?
(A) आत्मा
(B) देवता
(C) ऋषि
(D) दानव


3. सूक्ष्म से सूक्ष्म कौन है?
(A) आत्मा
(B) गगन
(C) परमात्मा
(D) संसार


4 • मंगलम् पाठ के रचनाकार कौन हैं?
(A) माघ
(B) कालिदास
(C) भास:
(D) वेदव्यास


5. उपनिषद् के रचनाकार कौन हैं?

(A) कालिदास
(B) वाल्मीकि
(C) वेदव्यास
(D) तुलसीदास


6. उपनिषद् किसका अंतिम भाग है?
(A) साहित्य
(B) संस्कृत
(C) वैदिक साहित्य
(D) गीता


7. ‘मंगलम्’ पाठ में किस प्रकार के मंत्र है?
(A) पद्यात्मक
(B) गद्यात्मक
(C) संकलनात्मक
(D) नाट्यात्मक


8. उपनिषद् किसका सिद्धांत प्रकट करता है?
(A) पुराण का
(B) दर्शन का
(C) ईश्वर का
(D) आत्मा का


9. किसे वश में नहीं किया जा सकता है?
(A) आत्मा
(B) परमात्मा
(C) विद्या
(D) सिंह


10. विद्वान शोक रहित होकर किसको देखता है?
(A) आत्मा
(B) विद्या
(C) परमात्मा
(D) मानव


11. सत्य से किसका रास्ता प्रशस्त होता है?
(A) घर का
(B) देवलोक
(C) विद्यालय
(D) युद्ध का


12. यह संपूर्ण संसार किसके द्वारा अनुशासित है?
(A) आत्मा
(B) परमात्मा
(C) साहित्य
(D) इनमें नहीं


13. ‘वेदा हमेतं पुरुषं महान्त म्विद्यतेऽयनाय।’ मंत्र किस उपनिषद् से लिया गया है?
(A) कठोपनिषद् से
(B) श्वेताश्वेतरोपनिषद् से
(C) मुण्डकोपनिषद् से
(D) ईशावास्योपनिषद् से


14. अणोरणीयान् महतो महिमानमात्मनः॥ मन्त्र किस उपनिषद् से संगृहीत है?
(A) मुण्डकोपनिषद् से
(B) कठोपनिषद् से
(C) श्वेताश्वेतरोपनिषद् से
(D) ईशावास्योपनिषद् से.


15. नदियाँ नाम और रूप को छोड़कर किस में मिलती हैं?
(A) समुद्र में
(B) मानसरोवर में
(C) तालाब में
(D) झील में


16. किसकी विजय नहीं होती है?
(A) सत्य की
(B) असत्य की
(C) धर्म की
(D) सत्य और असत्य दोनों की


17. किनकी महिमा का गायन हुआ है?
(A) विद्वान
(B) आत्मा
(C) समुद्र
(D) परमात्मा


18. सबसे बड़ा खजाना क्या है?
(A) धन
(B) विद्या
(C) इंद्रिय
(D) सत्य


19. ईश्वर क्या है?
(A) धन
(B) सत्य
(C) समुद्र
(D) असत्य


20. ईशावास्योपनिषद् में किसके विषय में कहा गया है?
(A) आत्मा
(B) परमात्मा
(C) मानव
(D) सत्य


21. कठोपनिषद् में किसके बारे में कहा गया है?
(A) परमात्मा
(B) मोक्ष
(C) माया मोह
(D) धन


22. ‘श्वेताश्रोपनिषद्’ में किसके बारे में कहा गया है?
(A) परमात्मा
(B) आत्मा
(C) विद्वान्
(D) नदियाँ


23. किसके प्रभाव से विद्वान शोक रहित होते हैं?
(A) धन
(B) मन
(C) इंद्रिय
(D) जन


24. ‘सत्यमार्ग’ से विद्वान कहाँ जाते हैं?
(A) देवलोक
(B) असलोन
(C) परलोक
D) पाताललोक


25. कौन अपने नाम और रूप को छोड़कर समुद्र में मिल जाता है?
(A) समुद्र
(B) झरना
(C) नदियाँ
(D) मार्ग


26. साधक किसको पार करते हैं?
(A) मृत्यु को
(B) अमरता को
(C) सत्य को
(D) जीवन को


27. सत्य धर्म के लिए
(A) आवरण को
(B) असत्य को
(C) सत्य को
(D) हिरण्यमयेन पात्र को


28. सत्य का मुख किस पात्र से ढका है?

(A) स्वर्ण
(B) शस्त्र
(C) शास्त्र
(D) विद्या


29. नदियाँ क्या छोड़कर समुद्र में मिल जाती है?
(A) स्वरूप
(B) नाम
(C) काम
(D) जल


30. प्राणियों के हृदयरूपी गुफा कौन बंद है?
(A) देव:
(B) राक्षसम्
(C) आत्मा
(D) शरीरम्


31. नदियाँ कहाँ जाकर मिलती है?
(A) सरोवर में
(B) समुद्र में
(C) तालाब में
(D) नगर में


32. किसकी जय होती है?
(A) क्रोध
(B) मोह
(C) असत्य
(D) सत्य


33. किसका मुख सोने के पात्र से बंद है?
(A) सत्य का
(B) असत्य का
(C) दर्शन का
(D) मानव का


34. ब्राह्मण का मुख किससे ढका है?
(A) रुपया से
(B) लोहा से
(C) सोने से
(D) मिट्टी से


35. विद्वान अपना नाम छोड़कर किसमें मिल जाता है?
(A) आत्मा
(B) जल
(C) परमात्मा
(D) हवा में


36. ऋषिलोग देवलोक की प्राप्ति के लिए किस मार्ग को अपनाते हैं?
(A) जलमार्ग
(B) सत्यमार्ग
(C) वायुमार्ग
(D) परमात्मा


37. हिरण्ययेन पात्रेण सत्यधर्माय दृष्टये। किस उपनिषद् का मंत्र है?
(A) कठोपनिषद
(B) मुण्डकोपनिषद्,
(C) ईशावास्योपनिषद्
(D) गीता


38. उपनिषद् के अंतिम भाग में किसका सिद्धांत है?
(A) दर्शनशास्त्र
(B) पुराण
(C) गीता
(D) अर्थशास्त्र


39. ‘आदित्य’ का पर्यायवाची क्या है?
(A) चन्द्र
(B) सरोवर
(C) सूर्य
(D) ईश्वर


 S.N Sanskrit Class 10th Solution
 1 मंगलम
 2  पत्लिपुत्रबैभ्वम
 3 अलसकथा 
 4 संस्कृत्साहित्ये लेखिका:
5  भरतमहिमा  
 6 भरतियसंस्कार:
7 नीतिसलोका :
8 कर्मवीर कथा :
9 स्वामी दयानंद : 
10 मंदकिनिवरंनम
11 व्याघ्रपतिकककथा :
12 करनस्य दानवीरता 
13 विश्व्शांति :
14 शास्त्रकार:

Leave a Comment

error: Content is protected !!